Uttarakhand Uttarakhand Study Material

उत्तराखंड के शहरों के पुराने नाम | Old names of cities of Uttarakhand

उत्तराखंड के शहरों के पुराने नाम

इस आलेख में उत्तराखंड के शहरों के पुराने नाम दिए गए हैं। जो ना सिर्फ राज्यस्तरीय परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण हैं बल्कि उत्तराखंड के सामान्य ज्ञान के हिसाब से भी महत्व रखता है। ये सभी नामों का रीफरेंस विभिन्न स्त्रोतों से लिया गया है। आप बिना संकोच इन्हें याद कर सकते हैं।

 

उत्तराखंड के शहरों के पुराने नाम

 

• हरिद्वार का पुराना नाम – मयूरपुर, कुपिला व मायापुर

• ऋषिकेश का पुराना नाम – कुब्जाम्रक व वीरभद्र

• देहरादून का पुराना नाम – पृथ्वीपुर

• चकराता का पुराना नाम – एकचक्रा

• कालसी का पुराना नाम – कलकूट, सुधनगर

• लाखामंडल का पुराना नाम – मढ़

• उत्तरकाशी का पुराना नाम – बाड़ाहाट, सौम्यकाशी और शत्रुघ्न

• बद्रीनाथ का पुराना नाम – विशाला व बद्रिकाश्रम

• कौसानी का पुराना नाम – बलना एंव भारत का स्विट्जरलैंड

• फूलों की घाटी का पुराना नाम – नंदन कानन व अलका

इसे भी पढ़ें – उत्तराखंड के प्रमुख व्यक्तित्व एवं उनके उपनाम 




• रुद्रप्रयाग का पुराना नाम – पुनाड़ या रुद्रावर्त

• माणा का पुराना नाम – मणिभद्र पुरी

• टिहरी का पुराना नाम – गणेशप्रयाग, धनुष तीर्थ, भारद्वाज क्षेत्र

• देवप्रयाग का पुराना नाम – सुदर्शन क्षेत्र व इंद्र प्रयाग

• नरेंद्रनगर का पुराना नाम – ओड़ाथली

• श्रीनगर का पुराना नाम – श्री क्षेत्र व सुबाहुपुर

• बड़कोट का प्राचीन नाम – राजगढ़ी

• कण्वाश्रम का पुराना नाम – चौकाघाट

• अल्मोड़ा का पुराना नाम – आलमनगर

• चंपावत का पुराना नाम – कुमूं

• टनकपुर का पुराना नाम – ग्रास्टिगंज, टल्कपुर

• काशीपुर का पुराना नाम – गोविषाण व कोटा

• नानकमत्ता का प्राचीन नाम – बख्शी व सिद्धतमा

• किच्छा का प्राचीन नाम – किलपुरी या दरउ

• डीडीहाट का पुराना नाम – सिरा

• मुनस्यारी का पुराना नाम – तिकसेन

• बागेश्वर का पुराना नाम – अग्नितीर्थ, उत्तराखंड का नीलगिरी

इसे भी पढ़ें – उत्तराखंड में हुए प्रमुख जन आंदोलन 

• कोसी नदी का पुराना नाम – कौशिकी

• विकासनगर का पुराना नाम – चुडफुर

• नैनीताल का पुराना नाम – छकाता

• कोटद्वार का पुराना नाम – मोरध्वज

• गढ़वाल का पुराना नाम – केदारखंड

• कुमाऊं का पुराना नाम – मानसखंड

• केदारनाथ का पुराना नाम – भृगतुंग

• उत्तराखंड का पुराणों में नाम – ब्रह्मपुर, खसदेश

• चंबा का पुराना नाम – चमुआ

• गोपेश्वर का पुराना नाम – गोपाला या गोथला

• लैंसडाउन का पुराना नाम – कालौं -डांडा

इसे भी पढ़ें – उत्तराखंड के प्रमुख साहित्यकार 

• खटीमा का पुराना नाम – मकरपुर

• बाजपुर का पुराना नाम – मुंडिया

• प्रतापनगर का पुराना नाम – ढांगधार

• कीर्तिनगर का पुराना नाम – बिलौली गांव

• चमोली का पुराना नाम – लाल सांगा

• जशपुर का पुराना नाम – शाह जफर या सहजगीर

• रानीबाग का पुराना नाम – चित्रशिला





अगर आपको उत्तराखंड के शहरों के पुराने नाम से सम्बंधित यह पोस्ट अच्छी  लगी हो तो इसे शेयर करें साथ ही हमारे इंस्टाग्रामफेसबुक पेज व  यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें।

 

About the author

Deepak Bisht

नमस्कार दोस्तों | मेरा नाम दीपक बिष्ट है। मैं पेशे से एक journalist, script writer, published author और इस वेबसाइट का owner एवं founder हूँ। मेरी किताब "Kedar " amazon पर उपलब्ध है। आप उसे पढ़ सकते हैं। WeGarhwali के इस वेबसाइट के माध्यम से हमारी कोशिश है कि हम आपको उत्तराखंड से जुडी हर छोटी बड़ी जानकारी से रूबरू कराएं। हमारी इस कोशिश में आप भी भागीदार बनिए और हमारी पोस्टों को अधिक से अधिक लोगों के साथ शेयर कीजिये। इसके अलावा यदि आप भी उत्तराखंड से जुडी कोई जानकारी युक्त लेख लिखकर हमारे माध्यम से साझा करना चाहते हैं तो आप हमारी ईमेल आईडी wegarhwal@gmail.com पर भेज सकते हैं। हमें बेहद खुशी होगी। मेरे बारे में ज्यादा जानने के लिए आप मेरे सोशल मीडिया अकाउंट से जुड़ सकते हैं। :) बोली से गढ़वाली मगर दिल से पहाड़ी। जय भारत, जय उत्तराखंड।

Add Comment

Click here to post a comment